Browse songs by

dekhatii hii raho aaj darpaN na tum

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


देखती ही रहो आज दर्पण न तुम
प्यार का ये महुरत निकल जायेगा, निकल जयेगा

साँस की तो बहुत तेज़ रफ़्तार है
और छोटी बहुत है मिलन की घड़ी
गूँधते गूँधते ये घटा साँवरी
बुझ न जाये कहीं रूप की फुलझड़ि
चूड़ियाँ ही न तुम music follows
चूड़ियाँ ही न तुम खनखनाती रहो
ये शरमशार मौसम बदल जायेगा, बदल जायेगा

सुर्ख होंठों पे उफ़ ये हँसी मदभरी
जैसे शबनम अँगारों की मेहमान हो
जादू बुनती हुई ये नशीली नज़र
देख ले तो ख़ुदाई परेशान हो
मुस्कुरावो न ऐसे music follows
मुस्कुरावो न ऐसे चुराकर नज़र
आइना देख सूरत मचल जायेगा, मचल जायेगा

चाल ऐसी है मदहोश मस्ती भरी
नीन्द सूरज सितारों को आने लगी
इतने नाज़ुक क़दम चूम पाये अगर
सोते सोते बियाबान गने लगे
मत महावर रचाओ music follows
मत महावर रचाओ बहुत पाँव में
फ़र्श का मरमरी दिल बहल जायेगा, बहल जायेगा

देखती ही रहो आज दर्पण न तुम

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Malini Kanth
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image