Browse songs by

dard se mere hai tujhako beqaraarii haay\-haay

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


दर्द से मेरे है तुझको बेक़रारी हाय-हाय
क्या हुई ज़ालिम तेरी ग़फ़लतशियारी हाय-हाय

तेरे दिल में गर न था आशूब-ए-ग़म का हौसला
तू ने फिर क्यूँ की थी मेरी ग़म-गुसारी हाय-हाय

उमर भर का तूने बेमान-ए-वफ़ा बाँधा तो क्या
उमर को भी तो नहीं है पाय दारी हाय-हाय

हाथ ही तेग़-आज़मा का काम से जाता रहा
दिल पे इक रग ने न पाया ज़ख़्म-कारी हाय-हाय

ख़ाक़ में न मुँह से पेमान-ए-महब्बत मिल गई
उठ गई दुनिया से राह-ओ-रस्म-ए-यारी हाय-हाय

Comments/Credits:

			 % Audio on: Magnasound. Cassette No. CI-Z1100
% A Tribute to her whose soul departed today Feb 04, 2004
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image