Browse songs by

chhoTaa saa ghar hogaa baadalo.n kii chhaa.Nv me.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


छोटा सा घर होगा बादलों की छाँव में
आशा दीवानी मन में बंसुरी बजाये
हम ही हम चमकेंगे तारो के उस गाँव में
आँखों की रोशनी हर दम ये समझाये

चाँदी की कुर्सी पे बैठे मेरी छोटी बहना
सोने के सिंहासन पे बैठे मेरी प्यारी माँ
मेरा क्या मैं पड़ा रहूँगा अम्मी जी के पाँव में
मेरा क्या मैं पड़ा रहूँगा अम्मी जी के पाँव में
आ अइ रे, आ अइ रे
आ अइ रे, आ अइ रे
छोटा सा घर होगा ...

मेरी छोटी बहना नाज़ों की पाली शहज़ादी
जितनी भी जळी हो मैं कर दूँगा इसकी शादी
अच्छा है ये बला हमारी जाये दूजे गाँव में
अच्छा है ये बला हमारी जाये दूजे गाँव में
आ अइ रे, आ अइ रे
आ अइ रे, आ अइ रे
छोटा सा घर होगा ...

(different tune - )

कहेगी माँ दुल्हन ला बेटा घर सूना सूना है
मन में झूम कहूँगा मैं माँ इतनी जळी क्या है?
गली गली में तेरे राज्दुलारे की चर्चा है
आखिर कोई तो आयेगा इन नैनों की गाँव में
आखिर कोई तो आयेगा इन नैनों की गाँव में
आ अइ रे, आ अइ रे
आ अइ रे, आ अइ रे
छोटा सा घर होगा ...

छोटा सा घर होगा बादलों के छाँव में
आशा दिवानी मन में बंसूरी बजाये
हम ही हम चमकेंगे तारों के उस गाँव में
आँखों की रोशनी हरदम ये समझाये

(छाँदी की कुर्सी पे बैथे मेरी छोटी बहना ) -२
सोने के सिंहासन पे बैथे मेरी प्यारी माँ
(मेरा क्या मै पड़ा रहूँगा अम्मी जी के पाँव में) -२
आ आ आई रे आ आ आई रे
आ आ आई रे आ आ आई रे ...

Comments/Credits:

			 % Credits: rec.music.indian.misc 
%          Ranjit Konkar (konkar@bimini.stanford.edu)
%          Preetham Gopalaswamy (preetham@src.umd.edu)
%          Arun Verma (verma@cs.cornell.edu)
%          Prithviraj Dasgupta
% Editor: Anurag Shankar (anurag@astro.indiana.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image