Browse songs by

chho.D musaafir maayaa nagar - - Pankaj Mullick

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


छोड़ मुसाफ़िर माया नगर
अब प्रेम नगर को जाना है
इस दुनिया की सफ़र बड़ी है
जीवन का न ठिकाना है
अब प्रेम नगर को जाना है ...

(आलम सारा जा रहा है
तेरा दिन भी आ रहा है) - २
(प्रेम का सौदा कर ले मुसाफ़िर
पीछे नहीं पछताना है) -२
प्रेम नगर को जाना है ...

(पुत्र पोता कोई न अपना
कोई न अपना कोई न अपना) -२
(माया रथ का झूठा सपना) - २
देख मुसाफ़िर कदम कदम पर
जग का दण्ड चुकाना है
अब प्रेम नगर को जाना है ...

Comments/Credits:

			 %Date: 02/07/2000
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image