Browse songs by

chhalake terii aa.Nkho.n se sharaab aur jiiyaadaa

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


छलके तेरी आँखों से शराब और ज़ियादा - ३
खिलते रहें होंठों के गुलाब और ज़ियादा - २

क्या बात है जाने तेरी महफ़िल में सितमगर - ३
धड़के है दिल-ए-खाना-खराब और ज़ियादा - २

इस दिल में अभी और भी ज़ख़्मों की जगह है - ३
अबरू की कटारी को दो आब और ज़ियादा

तू इश्क़ के तूफ़ान को बाँहों में जकड़ ले - २
अल्लाह करे ज़ोर-ए-शबाब और ज़ियादा
खिलते रहे होठों के गुलाब और ज़ियादा

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Ravi Kant Rai (rrai@ndsun.cs.ndsu.nodak.edu)
% Editor: Anurag Shankar (anurag@astro.indiana.edu)
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image