Browse songs by

chaa.Nd raat tum ho saath kyaa kare.n

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


कि : चाँद रात तुम हो साथ क्या करें अजी अब तो दिल मचल-मचल गया
ल : दिल का ऐतबार क्या क्या करोगे जी पल जो ये बदल गया

कि : ज़ुल्मी नज़र कैसी निडर दिल चुरा लिया
जाने किस अजब देश में बुला लिया
ल : ये भी कोई दिल है क्या
जहाँ मौक़ा मिला फिसल-फिसल गया
कि : चाँद रात तुम हो ...

ल : सुनिए ज़रा मैने कहा मत सताइए
अपने आप अपनी राह लौट जाइए
कि : ये वो राहें नहीं जिसपे चल के कोई संभल गया
चाँद रात तुम हो ...

बहके-बहके अब तो सनम बाँह थाम लो
ल : अपनी नज़र अपनी निग़ाहों से काम लो -२
कि : आप का क्या गया
फूल सा दिल मेरा कुचल-कुचल गया
कि : चाँद रात तुम हो ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image