Browse songs by

chaahe koii Kush ho chaahe gaaliyaa.N hazaar de

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


चाहे कोई खुश हो चाहे गालियाँ हज़ार दे
मस्त राम बन के ज़िंदगी के दिन गुज़ार दे

पी के धाँधली करे तो मुझको जेल भेज दो
सूँघने में क्या है ये जवाब थानेदार दे

भाव अगर बढ़ा भी डाले सेठ यार ग़म न कर
खाये जा मजे के साथ जब तलक़ उधार दे

धत् तेरे की!
हवा निकल गया
जैक् लगाओ
चक्का, पहिया, पम्पिंग्

बाँट कर जो खाये उसपे अपनी जान ओ दिल लुटा
अरे जो बचाये माल उसको जूतियों का हार दे

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image