Browse songs by

bhagavaan teraa insaan dekh le hai kitanaa naadaan

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


भगवान तेरा इन्सान देख ले है कितना नादान
अरे इसे तो झूठ-साँच की ज़रा नहीं पहचान
देख ले है कितना नादान -२

मूरख मत झूठा भरमाना वरना फिर होगा पछताना
कण-कण में वो बसा हुआ है पाए ना पहचान रे
भगवान तेरा इन्सान ...

राम नाम गाँधी ने गाया दुनिया का बापू कहलाया
जिसके घर दीइप जलाता पूजे सभी जहान रे
भगवान तेरा इन्सान ...

तू पत्थर में प्राण जगा दे धरती और आकाश हिला दे
आँखें होते अन्धे क्यों हैं ये तेरे इन्सान रे
भगवान तेरा इन्सान ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image