Browse songs by

ashaar #recital# ... hamane maanaa ke ... mere baad

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


हमने माना के तग़ाफ़ुल न करोगे लेकिन
ख़ाक़ हो जायेंगे हम तुमको ख़बर होने तक
ख़ाक़ हो जायेंगे हम

हुस्न-ए-ग़म है के सज़ा सज़ से छुटा मेरे बाद
बाकी आराम से हैं अहल-ए-जफ़ा मेरे बाद

शमा बुझती है उसमें से धुआँ उठता है
शोला-ए-इश्क़ सिया-पोश हुआ मेरे बाद

ग़म से मरता हो के इतना नहीं दुनिया में कोई
क्यूँ करें ताजियत-मेहर-ओ-वफ़ा मेरे बाद

आये है दिलक़शी-ए-इश्क़ पे रोना ग़ालिब
इश्क़ घर जायेगा सैलाब-ए-बला मेरे बाद

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image