Browse songs by

apano.n se shiqaayat hai naa Gairo.n se gilaa hai

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


अपनों से शिक़ायत है ना ग़ैरों से गिला है -२
जो कुछ मेरी तक़्दीर में -२
लिखा था मिला है
अपनों से शिकायत है ना ग़ैरों से गिला है

केहते हैं ये आँखों में तडपते हुए आँसू -२
ये उम्र क रोना तेरे हँसने की सज़ा है -२

क्यूं दर्द सा उठता है -२
उमंगों भरे दिल में -२
क्यूं दर्द के तूफ़ान में दिल डूब रहा है -२

अपनों से शिकायत है ना ग़ैरों से गिला है
जो कुछ मेरी तक़्दीर में -२
लिखा था मिला है

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Neha Desai
% Date: September 16, 2002
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image