Browse songs by

apanaa dil pesh karuu.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


अपना दिल पेश करूँ, अपनी वफ़ा पेश करूँ
कुछ समझ में नहीं आता तुझे क्या पेश करूँ

मेरे ख़्वाबों में भी तू, मेरे ख़यालों में भी तू
कौन सी चीज़ तुझे तुझसे जुदा पेश करूँ
जो तेरे दिल को लुभा ले, वो अदा मुझमें नहीं
क्यों न तुझको कोई तेरी ही अदा पेश करूँ

तेरे मिलने की ख़ुशी में कोई नग़मा छेड़ूँ
या तेरे दर्द-ए-जुदाई का ग़िला पेश करूँ

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Rajiv Shridhar 
% Date: 08/20/1995
% Credits: Ashok Dhareshwar 
% Editor: Rajiv Shridhar 
% Comments: The song was recorded for a film called "Kaafir"
%           about which nothing else is known.
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image