Browse songs by

ai sanam aaj ye qasam khaa_e.N

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ल : ऐ सनम
ऐ सनम आज ये क़सम खाएँ
मुड़ के अब देखने का नाम ना लें
प्यार की वादियों में खो जाएँ
त : ऐ सनम आज ये क़सम खाएँ
फ़ासले प्यार के मिटा डालें
और दुनिया से दूर हो जाएँ
दो : ऐ सनम आज ये ...

त : जिस तरफ़ जाएँ बहारों के सलाम आएँगे -२
आसमानों से भी रंगीन पयाम आएँगे
ल : तेरा जलवा है जहाँ मेरी जन्नत है वहाँ
तेरे होंठों की हँसी सौ बहारों का समाँ
त : ऐ सनम आज ये ...

ल : अपना ईमान फ़क़त अपनी मोहब्बत होगी
त : हर घड़ी इश्क़ की इक ताज़ा क़यामत होगी
ल : देख कर रंग-ए-वफ़ा मुस्कुराएगा ख़ुदा
त : और सोचेगा ज़रा इश्क़ क्यों पैदा किया
दो : इश्क़ क्यों पैदा किया -२
ऐ सनम आज ये ...

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image