Browse songs by

ai dil tuu kahii.n le chal

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


अए दिल अए दिल
तू कहीं ले चल ले चल

अए दिल तू कहीं ले चल ले चल ले चल
उस देश जहाँ धरती
आकाश से मिलती हो
एक ख्वाब की दुनिया हो
एक रूप की बस्ती हो
वो बस्ती जो शायर ने
सपनों मे बनाई हो
अए दिल तु वही ले चल -२

मासूम कली जिनकी
खिलने को तरसती हैं
उठती हैं घटा दिल से
आँखों से बरसती हैं
ये दुःख भरी दुनिया हैं
ये दर्द की बस्ती हैं
इस दर्द की बस्ती से
हाँ और कहीं ले चल ले चल ले चल

क्या जी करें कोई
क्या मौत है जीने में
क्या दिल की तमन्नायें
घुट जाती हैं सीने में
रोते है यहाँ अरमाँ
सावन की महीने में
सवान की घटाओं से - ३
हाँ और कहीं ले चल ले चल ले चल

Comments/Credits:

			 % Date: 8 Nov 2000
% Comments: Hemant-da a genius #53
% Availablity: Rare gems of Hemant Kumar EMI CDF 132131
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image