Browse songs by

ai dil tujh hii ko nii.nd na aayii tamaam raat

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


ऐ दिल तुझ ही को नींद न आयी तमाम रात
सोता रहा ख़ुदा की ख़ुदाई तमाम रात

अपनी तो एक भी न चली दिल के सामने
रह रह के तेरी याद भुलायी तमाम रात

किस माह-ए-आसमान के तसव्वुर में रात भर
तारों तुम्हें भी नींद न आयी तमाम रात

Comments/Credits:

			 % Transliterator: K Vijay Kumar
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image