Browse songs by

aashaa ne khel rachaayaa - - Pankaj Mullick

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


आशा ने खेल रचाया
बन बन के हमें बनाया
तन मन में आग लगाई
सुख का सन्सार जलाया
आशा ने खेल रचाया

( जब हम अपनापन भूले
और प्रेम का झूला झूले ) -२
तब फेर के हमसे आँखें -२
इस दिल का दिया बुझाया
आशा ने खेल रचाया

दीनों का सहारा रूठा
तूफ़ान जिगर पर टूटा
सीने में बिजली तड़पी
आँखों में
आँखों में अंधेरा चाया

( दुख दर्द में डूबा डूबा
इक गीत है अरमानों का ) -२
दिल धो कर दिल में जिसको -२
आहों के फेर लगाया
आशा ने खेल रचाया

View: Plain Text, हिंदी Unicode, image