Browse songs by

aa, khilate hai.n gul, o, mere bulabul

Back to: main index
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image


(आ, खिलते हैं गुल, ओ, मेरे बुलबुल
रुत है जवाँ तू है कहाँ, दिलरुबा) -२
खिलते हैं गुल ओ मेरे बुलबुल
chorus:मिल जा गले कल ये मिलन की रुत ना ढले -२

रुत है जवाँ तू है कहाँ, दिलरुबा ...

(ओ वोही तेरी राहें वोही मेरी आहें
वोही मैं हूँ वोही दिल मेरा) -२
वोही तेरी बातें वोही मेरी रातें
वोही रंग-ए-महफ़िल मेरा
रहके जुदा दिल न दुखा आ भी जा
खिलते हैं गुल ओ मेरे बुलबुल
chorus:दिल ना जले पिया का खुद अपने दिल से भले -२

रुत है जवाँ तू है कहाँ, दिलरुबा ...

(हो राह तेरी तकता ग़म से सुलगता
चाँद बेचारा कहाँ गया) -२
तू ही नहीं आया ढल गया सारा
यहाँ का सारा वहाँ गया
रात ढली झूम चली फिर हवा
आ खिलते हैं गुल ओ मेरे बुलबुल
chorus:तुम ना मिले खड़ी-खड़ी जली पिया चंदा तले -२

रुत है जवाँ तू है कहाँ, दिलरुबा ...

Comments/Credits:

			 % Transliterator: Arunabha S Roy
% Date: 30 Sep 2004
% Series: LATAnjali
% generated using giitaayan
		     
View: Plain Text, हिंदी Unicode, image